IGCSE Hindi (Second Language) Paper-1: Specimen Questions with Answers 113 - 117 of 143

Passage

‘जिस्म तो टूटा, मन नहीं’

राजस्थान के एक दुरस्थ मरूस्थली गांव सुई में एक दुर्घटना के बाद विकलांग बनी ज़िंदगी को ग्रामीण बुजुर्ग शिशुपाल सिंह ने ऐसे बदला जैसे वे स्वयं जीता जागता रेडियो बन गए हो। शिशुपाल पिछले दो दशक से अपने बिस्तर से ही हर रोज़ पूरे गांव को ख़बरें सुनाते हैं। वे ज़रूरी सूचनाएं भी प्रसारित करते हैं। इसके लिए शिशुपाल एक माइक और लाउडस्पीकर का सहारा लेते है। उनके प्रसारण में कभी रेडियों की ख़बरें, कभी उपयोगी सूचनाएं और कभी जीवन दशैन की सूक्तियां शामिल होती है।

दुर्घटना के बाद शिशुपाल की ज़िंदगी एक कमरे में क़ैद होकर रह गई वह खुद तो दुनिया से कट गए, लेकिन अपने गांव को इस प्रसारण के ज़रिए दुनिया से जोड़े रखा। बीकानेर से कोई 150 किलोमीटर का सफ़र तय कर हम जब सुई गांव पहुंचे तो शिशुपाल अतीत की यादों में खोए मिले। वे कहने लगे-“मैं उस समय दुर्घटना का शिकार हो गया जब सामाजिक कार्य से कहीं जा रहा था। इसमें मेरी रीढ़ की हड्‌डी टूट गई और फिर मैं कभी उठ न सका।”

शिशुपाल कहते हैं, मैं हर रोज़ सुबह उठकर लाउडस्पीकर के ज़रिए लोगों का अभिवादन करता हूँ। उन्हें कहता हूँ कि सवेरा हो गया है, नित्य काम में जुट जाएं। इसके बाद मैं कुछ भजन तथा देश-विदेश की ख़बरें भी गांव वालों को सुनाता हूँ। लोगों से आग्रह करता हूँ कि बच्चों को अच्छी शिक्षा दें। लोगों को नशे से दूर रहने को कहता हूँ।”

गांव के हरफूल कहते हैं कि “अगर किसी का मवेशी खो जाए, या राशन का गेहूं बंटने के लिए आया हो, शिशुपाल अपने इस प्रसारण यंत्र के ज़रिए पूरे गांव को ख़बर दे देते हैं। कई बार उनके प्रसारण से खोए हुए मवेशी ग्रामीणों को वापस मिल जाते हैं, यहाँ तक कि गायब हुए आभूषण भी वापस मिलें है। हमारे लिए शिशुपाल जी बहुत अच्छा काम करते हैं”

ऐसे समय जब कुछ टीवी चैनल ख़बरों से ज्यादा विज्ञापन प्रसारित करते हों और सूचनाएं मुनाफे की भेंट चढ़ जाती हो, ये शिशुपाल का उत्साह ही है कि विकलांग ज़िंदगी के बावजूद वे समाज के लिए ख़बरेें सुनाते हैं। दुर्घटना ने उनका जिस्म तो तोड़ा लेकिन शिशुपाल ने अपने मन को नहीं टुटने दिया।

Question number: 113 (1 of 5 Based on Passage) Show Passage

Edit

Short Answer Question▾

Write in Short

क्यों कुछ टी. वी. चैनल उपयोगी जानकारी देने में पीछे रह जाते हैं?

Explanation

क्योंकि जब कुछ टीवी चैनल ख़बरों से ज्यादा विज्ञापन प्रसारित करते हों और सूचनाएं मुनाफे की भेंट चढ़ जाती है तो …. उपयोगी जानकारी देने से पीछे रह जाते हैं।

Question number: 114 (2 of 5 Based on Passage) Show Passage

Edit

Short Answer Question▾

Write in Short

शिशुपाल को दुर्घटना के बाद भी रेडियों की संज्ञा क्यों दी गई?

Explanation

शिशुपाल का उत्साह ही है कि विकलांग ज़िंदगी के बावजूद वे समाज के लिए ख़बरेें सुनाते हैं। दुर्घटना ने उनका जिस्म तो तोड़ा लेकिन शिशुपाल ने अपने मन को नहीं टुटने दिया।

Question number: 115 (3 of 5 Based on Passage) Show Passage

Edit

Short Answer Question▾

Write in Short

शिशुपाल किस कार्य के लिए प्रोत्साहित नहीं करते हैं?

Explanation

बच्चों को अच्छी शिक्षा न देनेें व लोगों को नशे में रहने के लिए प्रोत्साहित नहीं करते थें।

Question number: 116 (4 of 5 Based on Passage) Show Passage

Edit

Short Answer Question▾

Write in Short

शिशुपाल किस माध्यम से सूचनाएं गांव तक पहुंचाते हैं?

Explanation

शिशुपाल एक माइक और लाउडस्पीकर का सहारा लेते है और सूचनाएं गांव तक पहुंचाते हैं।

Question number: 117 (5 of 5 Based on Passage) Show Passage

Edit

Short Answer Question▾

Write in Short

शिशुपाल के प्रसारण से गांव को क्या मुख्य फायदे हुए हैं? कोई दो उदाहरण दिजिए।

Explanation

1 … उनके प्रसारण से खोए हुए मवेशी ग्रामीणों को वापस मिल जाते हैं।

2 … यहाँ तक कि गायब हुए आभूषण भी वापस मिलें है।

Choose Paper